कोयला संकट: राज्‍यों से वसूली की तैयारी में कोल इंडिया, 20 हजार करोड़ हैं बकाया

नई दिल्‍ली. देश के विभिन्न बिजली संयंत्र (Power Plants) इस समय कोयले की कमी से जूझ रहे हैं. इससे देश में बिजली संकट (Power Cut) बढ़ने की आशंका चल रही है. इस बीच केंद्र सरकार ने जानकारी दी है कि राज्‍यों के पास कोल इंडिया (Coal India) का करीब 20 हजार करोड़ रुपये बकाया है. जानकारी के अनुसार इनमें कर्नाटक, मध्‍य प्रदेश, महाराष्‍ट्र, राजस्‍थान, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु बड़े डिफॉल्‍टर के रूप में हैं. इसके साथ ही कोयला मंत्रालय ने उत्‍तर प्रदेश, महाराष्‍ट्र, तमिलनाडु और राजस्‍थान को भी पत्र लिखकर उनसे बकाया चुकाने को कहा है.

कोयला संकट के बीच यह भी बात सामने आई है कि कोयला मंत्रालय की ओर से राज्‍यों को फरवरी में ही पत्र लिखकर कोयले का भंडार रखने और आवंटन वाला कोयला सुचारू रूप से उठाने को कहा गया था. यह भी कहा गया है कि अधिक रकम बकाया होने के बावजूद राज्‍यों को कोयले की आपूर्ति जारी रखी गई.

इन राज्‍यों पर है बड़ी बकाया राशि
कोयला मंत्रालय का कहना है कि झारखंड, राजस्‍थान और पश्चिम बंगाल जैसे राज्‍यों में कोयले की खदानें हैं. लेकिन इनमें या तो खनन बिलकुल नहीं किया गया और या तो कम किया गया. कोयला मंत्रालय के अनुसार महाराष्‍ट्र पर 3176 करोड़ रुपये बकाया हैं. उत्‍तर प्रदेश पर 2743 करोड़ रुपये की बकाया राशि है. पश्चिम बंगाल पर 1958 करोड़ रुपये बकाया हैं. वहीं तमिलनाडु और राजस्‍थान पर क्रमश: 1281.7 करोड़ रुपये और 774 करोड़ रुपये बकाया हैं.

इसलिए गहराया संकट
वहीं कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा है कि ताप बिजली संयंत्रों को कोयले की आपूर्ति मंगलवार को सामूहिक रूप से 20 लाख टन को पार कर गई है. उन्होंने दावा किया कि बिजलीघरों को कोयले की आपूर्ति बढ़ाई गई है. कोयला मंत्रालय का कहना है कि राज्‍यों ने कोयले का खनन ठीक से नहीं किया. साथ ही कोल इंडिया से भी कोयला सुचारू रूप से नहीं लिया गया, ऐसे में कोयला संकट गहरा गया है.

यह भी है एक कारण
वहीं देश में छाए कोयला संकट का एक कारण आयाति‍त कोयला महंगा होना भी बताया जा रहा है. ए‍क रिपोर्ट में कहा गया है कि मार्च 2021 में आयातित कोयले की कीमत 4200 रुपये टन थी लेकिन सितंबर अक्‍टूबर में यह 11520 रुपये प्रति टन हो गई थी. इससे भी कोयला संकट बढ़ा और बिजली उत्‍पादन लड़खड़ा गया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *