‘झारखंड में मदद के नाम पर चल रहा धर्मांतरण का खेल’, RSS के आरोपों से सियासत गर्म

रांची. झारखंड में धर्मांतरण (Conversion) का मुद्दा एक बार फिर गरमा गया है. आरएसएस (RSS) ने इसको लेकर राज्य सरकार (Hemant Govt) को निशाने पर लिया है. संघ का आरोप है कि लॉकडाउन के दौरान मदद और सहयोग के नाम पर धर्मांतरण का खेल चलता रहा. हालांकि कांग्रेस ने आरएसएस के इस आरोप को खारिज किया है.

धनबाद में आरएसएस के कार्यक्रम में धर्मांतरण को लेकर हेमंत सोरेन पर निशाना साधा गया. आरोप ये लगाया गया कि राज्य के अंदर मदद और सहयोग के नाम पर लोगों का धर्मांतरण किया जा रहा है. प्रदेश बीजेपी के प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने आरएसएस के आरोपों का समर्थन करते हुए कहा कि जब सरकार गठन पर क्रिसमस गिफ्ट का उदाहरण दिया गया, तो मंशा साफ हो जाती है.

हेमंत सोरेन सरकार का बचाव करते हुए सहयोगी दल कांग्रेस ने कहा है कि इस तरह की बयानबाजी की उम्मीद आरएसएस और बीजेपी से की ही जाती है. ये आपदा में अवसर तलाशने वाले राजनीतिक दल हैं, जो हमेशा समाज और लोगों को तोड़ने की बात करते हैं. प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि कोरोनाकाल में इस तरह की राजनीति से बचना चाहिये. अगर इस तरह की कोई बात है तो स्पष्ट तौर पर उसका उल्लेख करना चाहिये.

झारखंड में ईसाई धर्म मानने वालों की बढ़ती जनसंख्या शायद धर्मांतरण के दावों को बल देती है. अगर कोई स्वेक्षा से किसी धर्म को अपनाता है तो ये अलग बात हो सकती है, लेकिन किसी लोभ-लालच और दबाव में ऐसे करता है तो धर्मांतरण को रोकने वाली कानून का सहारा लिया जाना चाहिये.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *