तमिलनाडु: कोरोना काल में निकाले गए कर्मचारियों ने फैक्ट्री में रखें पाइप बम! पुलिस कर रही जांच

तिरुनेलवेली. तिरुनेलवेली शहर (Tirunelveli) के शंकर नगर में एक निजी सीमेंट के कारखाने में दो पाइप बम बरामद हुए हैं. पुलिस ने आशंका जताई है कि यह कंपनी के निकाले गए कुछ कर्मचारियों का काम है. राज्य सरकार के कोविड-19 (Covid-19) के मद्देनजर सीमित संख्या में लोगों से काम करने के निर्देश के बाद सीमेंट के निजी कारखाने के मालिकों ने कुछ कर्मचारियों को निकाल दिया था.

पुलिस ने बताया कि बम काफी शक्तिशाली थे और इन्हें निष्क्रिय कर दिया जाएगा. काम से निकाले जाने के बाद, कारखाने के अधिकारियों को फोन करके निकाले गए कर्मचारियों के लिए 50 लाख रुपये मांगे गए. पैसा ना देने पर कारखाने में पांच जगह बम लगाने की धमकी भी दी गई. उन्होंने बताया कि मंगलवार रात बम निरोधक दस्ता मौके पर पहुंचा, जिसे दो पाइप बम बरामद हुए.

बम को निष्क्रिय करने से पहले विस्तार से उसका निरीक्षण किया जाएगा. उन्हें निकाले गए कर्मचारियों द्वारा बम लगाए जाने का संदेह है. अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है और मामले की जांच जारी है. तिरुनेलवेली के पुलिस अधीक्षक एन मणिवनान ने कारखाने का दौरा किया और मामले के संबंध में जानकारी हासिल की.

यह भी पढ़ें: बेटे के साथ महिला ने 12वीं मंजिल से कूद कर की खुदकुशी, सुसाइड नोट में पड़ोसियों पर लगाया आरोप

इस बीच, कारखाने के कर्मचारियों को घर पर ही रहने को कहा गया है. द हिंदू की रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले बताया गया है कि सीमेंट फैक्ट्री में कुछ सौ स्थाई कर्मचारी और एक हजार से ज्यादा ठेका मजदूर काम कर रहे थे. यह कंपनी तमिलनाडु के अलग-अग हिस्सों और पड़ोसी राज्य केरल में निर्माण सामग्री सप्लाई करती है.

शुरुआती जांच के बाद बुधवार को 6 संदिग्धों को पूछताछ के लिए बुलाया गया है. रिपोर्ट के मुताबिक, एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘हमे इस घटना में अच्छी संख्या में लोगों के शामिल होने का शक है. दोषियों की पहचान के लिए जांच जारी है.’

(भाषा इनपुट के साथ)

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *