तेजस्‍वी यादव की यात्रा से पहले JDU ने झारखंड में नियुक्‍त किया नया प्रदेश अध्‍यक्ष, खीरू महतो को मिली कमान

रांची. ललन सिंह के जनता दल यूनाइटेड का राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष बनने के बाद बड़ी नियुक्ति की गई है. इसके साथ ही झारखंड JDU को नया अध्‍यक्ष भी मिल गया है. लंबे विचार विमर्श के बाद पार्टी ने पूर्व खीरू महतो को झारखंड का प्रदेश अध्‍यक्ष बनाया है. अब उन पर राज्‍य में संगठन को दुरुस्‍त करने और पार्टी की राजनीतिक जमीन को और मजबूत करने की जिम्‍मेदारी होगी. बता दें कि जेडीयू ने झारखंड में प्रदेश अध्‍यक्ष की नियुक्ति ऐसे समय की है, जब तेजस्‍वी यादव की अगुआई में RJD भी प्रदेश में अपने लिए और ज्‍यादा संभावनाओं की तलाश में जुटा है. इसी सिलसिले में तेजस्‍वी यादव 18 सितंबर से दो दिवसीय यात्रा पर झारखंड पहुंच रहे हैं. इस दौरान 10 लाख लोगों को पार्टी की सदस्‍यता दिलाने का लक्ष्‍य रखा गया है.

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने इस मौके पर कहा कि झारखंड में पार्टी को मजबूत करने के लिए विचार-विमर्श के बाद पार्टी ने पूर्व विधायक खीरू महतो को झारखंड का जेडीयू अध्यक्ष बनाने का फैसला किया है. इसके अलावा गुलाब महतो को झारखंड का उपाध्यक्ष बनाया गया है. वहीं, प्रवीण सिंह को झारखंड प्रदेश संगठन का प्रभारी नियुक्‍त किया गया है.

दूसरे प्रदेश में चुनाव लड़ने के सवाल पर ललन सिंह ने कहा कि अभी बीजेपी से बात बनी नहीं है. बातचीत फिलहाल प्रारंभिक दौर में है. उन्‍होंने कहा कि यूपी और मणिपुर दोनों जगह हमारा संगठन मजबूत है. दोनों जगह एनडीए के अंदर बात बन जाती है और तालमेल हो जाता है तो हम साथ में चुनाव लड़ेंगे. ललन सिंह ने कहा कि सहमति न बनने पर जेडीयू अपने बूते दोनों राज्यों में चुनाव लड़ेगी.

Jharkhand News: तेजस्‍वी यादव की झारखंड पर नजर, जड़ें मजबूत करने बनाया मास्‍टर प्‍लान

 झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के भोजपुरी और मगही भाषी लोगों पर दिए बयान पर ललन सिंह ने कड़ी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त की है. उन्‍होंने कहा कि बिहार और झारखंड अलग कहां था. बिहार और झारखंड को एक ही था. कोई भी सरकार अगर इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करती है तो वही बात हो गई जैसे महाराष्ट्र को लेकर कोई कुछ बात बोल देता है और दिल्ली के संबंध में कभी कोई कुछ और बोलता है. ललन सिंह ने कहा कि यह देश सबका है. हिंदू का भी है, मुसलमान का भी है ईसाई का भी है और पंजाब के लोगों का भी है. इसलिए ऐसी कोई बात नहीं होनी चाहिए जिससे देश को नुकसान हो. जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव और झारखंड के नवनियुक्त संगठन प्रभारी प्रवीण सिंह ने कहा कि झारखंड के मुख्यमंत्री को कोई ज्ञान नहीं है. यह कांग्रेस और जेएमएम की आंतरिक लड़ाई है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *