पुलिस से बहस गोड्डा नगर अध्यक्ष को पड़ा भारी, 16 दिन बाद जमशेदपुर से गिरफ्तार

रिपोर्ट- गौरव झा

गोड्डा. झारखंड के गोड्डा में बीते 14 जुलाई को मास्क और हेलमेट नहीं पहनने पर नगर अध्यक्ष को रौतारा टीओपी पर रोका गया था. इस दरमियां उनकी बहस वहां प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी और पुलिस के जवान के साथ हुई थी. जिसके बाद जितेंद्र मंडल पर सरकारी काम में बाधा डालने का आरोप लगाया था. और प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी द्वारा FIR दर्ज करायी गयी थी. बदले में नगर अध्यक्ष ने भी दण्डाधिकारी पर बदसलूकी करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया था.

केस दर्ज होने के बाद नगर अध्यक्ष की गिरफ्तारी के लिए पुलिस उनके ठिकानों पर छापेमारी कर रहे थी. कोर्ट से वारंट जारी होने के बाद पुलिस लगातार गिरफ्तारी को कोशिश कर रही थी. पर नगर अध्यक्ष फरार चल रहे थे.

नगर अध्यक्ष के बताया कि पिछले दिनों वो काम से रांची गए थे, जहां से पुरी जा रहे थे. इसी क्रम में उनको गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने कहा कि अगर एक भी बार पुलिस उन्हें कह देती कि उनके खिलाफ वारंट जारी है, तो वो खुद थाने में आकर अपनी गिरफ्तारी दे देते. पुलिस को यूं अपराधियों की तरह जनप्रतिनिधि को पकड़ना सही नहीं है.

इस मामले में नगर अध्यक्ष की पत्नी जुली देवी ने कहा कि उनके पति कोई कुख्यात अपराधी नहीं हैं. फिर भी पुलिस द्वारा उन्हें अपराधियों की तरह गिरफ्तार कर लाया गया. उन्होंने गोड्डा एसपी पर एक तरफा कार्रवाई करने का आरोप लगाया. एसपी अपना खुन्नस निकालना चाहते हैं, इसलिए एक तरफा कार्रवाई की गई.

वहीं एसडीपीओ आनंद मोहन ने बताया कि 14 को हुए कांड में वो वारंटी थे. पुलिस गोड्डा में उन्हें ढूंढ रही थी. कई दफा उनके घर पर छापेमारी की गई, पर सफलता नहीं मिली. आज अंततः पुलिस ने उन्हें जमशेदपुर के आजाद नगरथाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *