बेखौफ बदमाश : राजधानी भोपाल में 3 करोड़ के 500 वाहन चोरी, पुलिस के हाथ अब तक खाली

भोपाल. वाहन चोरों ने भोपाल पुलिस (Bhopal Police) की नाक में दम कर दी है. 6 महीने में राजधानी भोपाल से 3 करोड़ के 500 से ज्यादा वाहन चोरी (vehicles stolen) जा चुके हैं लेकिन बदमाशों को पकड़ना तो दूर पुलिस उनका सुराग भी नहीं लगा पायी है. अब चोरों का सुराग देने वाले को साढ़े पांच लाख का इनाम देने की घोषणा की है. शहर में 67 डार्क पाइंट्स की पहचान की गयी है और वाहन चोरों के जगह-जगह पोस्टर्स लगाए गए हैं. नाकों-चौराहों और पड़ोसी जिलों हर तरफ चोरों को तलाशा जा रहा है.

भोपाल में पिछले 190 दिन यानि करीब सवा 6 महीने में एक के बाद एक 500 वाहन चोरी चले गए. इनकी कीमत करीब तीन करोड़ रुपये आंकी गयी. पुलिस पिछली वारदात का पता भी नहीं लगा पाती कि चोर अगली जगह से गाड़ी उड़ाकर रफूचक्कर हो जाते हैं.

इन इलाकों में सबसे ज्यादा चोरी

भोपाल पुलिस ने बढ़ती वारदातों पर लगाम लगाने के लिए इलाके चिन्हित किए तो वाहन चोरी के 67 डार्क स्पॉट सामने आए. ये चोर उन इलाकों में लगे सीसीटीवी में भी कैद हुए लेकिन फिर भी पुलिस इन्हें पकड़ नहीं पा रही है. नए शहर में सबसे ज्यादा 52 वाहन गोविंदपुरा इलाके से चोरी गए. जबकि पुराने शहर में बदमाश शाहजहांनाबाद से सबसे ज्यादा 67 गाड़ियां चुरा ले गए. पुलिस के लिए सिरदर्द बन चुके इन बदमाशों की धरपकड़ के लिए अब खुद भोपाल डीआईजी इरशाद वली को उतरना पड़ा. उन्होंने डार्क जोन चिन्हित किए हैं जहां अलग-अलग पुलिसकर्मियों की थाना वार ड्यूटी लगाई जा रही है. अलग-अलग स्थानों से चोरी करते हुए सीसीटीवी कैमरों में कैद हुए बदमाशों को भी चिन्हित किया जा रहा है. तस्वीरों को एक साथ जोड़कर दस से ज्यादा फोटो कोलाज बनाए गए हैं. ये कोलाज भोपाल से बाहर सटे जिलों के थाना पुलिस को भी भेजा गया है. ताकि बदमाशों की पहचान जल्द से जल्द हो सके. भोपाल से बाहर जाने वाले हर टोल नाकों पर लगे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं. वाहन चोरों को पकड़ने के लिए ऐसी कवायद संभवत पहली बार की जा रही है.

तीन अफसरों को जिम्मेदारी

वाहन चोर और चोरी पुलिस के लिए इतनी बड़ी चुनौती बन गए हैं कि डीआईजी इरशाद वली ने 3 अफसरों विजय खत्री एसपी नार्थ, साईं कृष्णा थोटा एसपी साउथ और एएसपी गोपाल धाकड़ क्राइम ब्रांच को जांच सौंपी है. उन्होंने बताया राजधानी में वाहन चोरी की सबसे ज्यादा 267 वारदात रात के वक्त यानि शाम छह बजे से सुबह छह बजे के बीच हुई हैं. सुबह छह बजे से शाम छह बजे के बीच बदमाश 231 वाहन चुरा ले गए. दिन के वक्त सबसे ज्यादा व्यस्त क्षेत्र एमपी नगर और अशोका गार्डन से बदमाशों ने 17 और 16 गाड़ियां चुराई हैं. वहीं रात के वक्त पिपलानी और ऐशबाग क्षेत्र से 20-20 वाहन चोरी हुए हैं. वाहन चोरी के करीब 230 प्रकरणों में से 130 में दो-दो हजार और 100 प्रकरणों में 5 हजार रुपए के इनाम घोषित किए गए हैं. इस संबंध में भोपाल डीआईजी ने आदेश जारी किए हैं. अब तक वाहन चोरों के खिलाफ करीब 5 लाख 60 हजार रुपए के इनाम घोषित किए जा चुके हैं फिर भी पुलिस के हाथ खाली हैं. बदमाशों की तलाश में क्राइम ब्रांच की टीमें चिन्हित वाहन चोरों के डेरों पर लगातार दबिश दे रही हैं. पुलिस ने इनाम की घोषणा वाले पोस्टर चिपकाए हैं और वहां के लोगों को कहा है कि यदि ये लोग भोपाल में नज़र आए तो फौरन पुलिस को सूचना दें. सूचना देने वाले को पुलिस पुलिस इनाम के साथ सम्मानित भी करेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *