रांची में साधु बनकर घूम रहा दिल्ली का ठग गिरफ्तार, आप तो नहीं हुए शिकार?

रांची पुलिस ने ठग को गिरफ्तार किया.

आपके अंधविश्वास का फायदा उठाकर आपके माल पर हाथ साफ करने वाला एक चालाक ठग सड़कों पर मालदार लोगों को निशाना बनाता था. लंबे वक्त से पुलिस इसे तलाश कर रही थी.

रांची. कोरोना काल में एक तरफ लोग संक्रमण के डर से घरों मे क़ैद हैं, तो इस मौके का फायदा उठाकर ठग भी सक्रिय हैं. एक खबर अरगोडा थाना क्षेत्र में सामने आई, जिसमें पुलिस ने एक ठग को गिरफ्तार किया, जो साधु के वेश में घूमकर लोगों को अपना शिकार बना रहा था. ठगी के मामले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने जिस आरोपी को धर दबोचा, उसके पास से ठगे गए जेवरात भी बरामद किए. प्रदेश की राजधानी में सिर्फ कोरोना ही नहीं, बल्कि अब ठगी का भी डर फैल रहा है. एक ऐसा ठग घूम रहा था, जो साधु के वेश में राहगीरों को चूना लगा रहा था. इस ठग के निशाने पर ज़्यादातर फोर व्हीलर सवार लोग रहे. आइए इस ठग और इसकी हरकतों के बारे में आपको बताते हैं. ये भी पढ़ें : अहम हुआ सीटी स्कैन, तो सवाल उठा कितनी कमी है रेडियोलॉजिस्टों की? ठगी की अनोखी मोडस ऑपरेंडीसाधु का चोला ओढ़े ये बहरूपिया पहले कारों को रुकवाता था और कुछ ही पलों में बातचीत करते हुए यह रेकी कर लेता था कि पार्टी मालदार है या नहीं. चाल में फंस पाने वाले लोग दिखने पर यह ठग उन्हें अपनी बातों के मायाजाल में फंसाता और एक तरह से सम्मोहित कर लेता था. बातों बातों में ही उनके हाथों की अंगूठी, घड़ी आदि निकाल लेता था.

ranchi news, jharkhand news, jharkhand crime news, ranchi crime news, रांची न्यूज़, झारखंड समाचार, झारखंड क्राइम न्यूज़, रांची क्राइम न्यूज़

ठग से बरामद की गई सोने की अंगूठी.

साल भर से कर रहा था ठगी
रांची की सड़कों पर इस बहरूपिए की कहानी एक दो दिन की नहीं बल्कि करीब 1 साल पुरानी है. एक शिकायत भी अरगोड़ा थाने में दर्ज थी, जिसके बाद से ही आरोपी की तलाश पुलिस कर रही थी. अब जबकि आरोपी को धर दबोचा गया तो उसके पास से ठगी की सोने की अंगूठी भी बरामद हो गई. आखिर कौन है ये ठग? आरोपी ठग का नाम रवि नाथ है और वह मूल रूप से जौनपुर के मण्डी गांव लेकिन नई दिल्ली का रहने वाला बताया जाता है. फिलहाल वह रांची के नगड़ी थाना क्षेत्र स्थित एक झोपड़ी में रहता था और यहीं रहकर ठगी की साज़िशों को अंजाम देता था. पुलिस उसकी लंबे समय से तलाश कर रही थी और सोमवार को सूचना मिलने पर अशोक नगर के पास से रवि को गिरफ्तार किया गया. पुलिस की पूछताछ में रवि ने ठगी के तरीकों के बारे में बताया.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *