Delhi University से ग्रेजुएट ने नकली साइन कर कंपनी के अकाउंट से उड़ाएं 18 लाख, अरेस्‍ट

नई दिल्ली. द‍िल्‍ली पुल‍िस (Delhi Police) ने एक ऐसे चीटर को गिरफ्तार करने में कामयाबी हास‍िल की है ज‍िसने सरकारी बैंक में नकली चेक लगाकर और नकली हस्‍ताक्षर कर कंपनी के अकांउट से 18 लाख रुपए न‍िकाल ल‍िए थे. वेस्‍ट ज‍िला के राजौरी गार्ड (Rajouri Garden) थाना पुल‍िस ने इस आरोपी का ग‍िरफ्तार कर ल‍िया है जोक‍ि दिल्‍ली व‍िश्‍वव‍िद्यालय (Delhi University) से ग्रेजुएट है. मामला 13 स‍ितंबर का है. पुल‍िस ने राजौरी गार्डन न‍िवासी तरुण के पास से 7 लाख रुपए नकद, नकली चेक को बरामद कर ल‍िया है.

पुल‍िस के मुताबिक कंपनी की ओर से खाते में से 18 लाख रुपए न‍िकाले जाने की श‍िकायत दी गई थी. इस श‍िकायत के बाद कंपनी ने इस मामले में जांच शुरू कर दी. कंपनी की ओर से राजौरी गार्डन थाना पुलिस को 13 सितंबर को शिकायत दी थी क‍ि कंपनी के इंडियन बैंक के खाते से गलत तरीके से 18 लाख रुपए की हेराफेरी की गई है.

ये भी पढ़ें: Delhi Police ने दबोचे पांच झपटमार, चोरी के मोबाइल व मोटरस‍ाइक‍िल बरामद

जांच के दौरान पता चला क‍ि पहले चेक से चांदनी चौक के एक ब्रांच से 11 लाख रुपये निकाले गए, जो राजौरी गार्डन के ब्रांच में जमा किया गया था. चेक अभिषेक नाम के जिस व्यक्ति के अकाउंट में जमा किया था, वह ब्रांच चांदनी चौक में है और चूंकि पुलिस शिकायत मिलने के बाद से ही अलर्ट थी तो उसने राजौरी गार्डन और चांदनी चौक ब्रांच में सादे कपड़ों में पुलिस लगा रखी थी. साथ ही दोनों बैंक के सभी स्टॉफ को अलर्ट कर दिया गया था.

इस दौरान जब एक आरोपी राजौरी गार्डन ब्रांच में आया और उसने गार्ड को दो चेक जमा कराने के लिए देकर चला गया. ये दोनों चेक 48 लाख और 67 लाख के थे और ये चेक पटना कॉलेज के प्रिंसिपल और एक अन्य व्यक्ति के नाम पर था. लेकिन जब तक कैशियर ने चेक के बारे में जानकारी पुलिस को दी तब तक वो व्यक्ति जा चुका था. लेकिन चांदनी चौक के ब्रांच से जब आरोपी पैसे निकालने आया तो पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया.

ये भी पढ़ें: Delhi Police: शराब-ड्रग्‍स की लत पूरा करने को चुराते थे वाहन, चढ़े पुल‍िस के हत्‍थे

मिली जानकारी के अनुसार आरोपी दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University) से ग्रेजुएट है और कुरियर कंपनी में डिलीवरी बॉय है. उसने फरीदाबाद के बैंक में कार्यरत एक कर्मचारी से मिलकर अकाउंट की डिटेल इकट्ठा की थी और फिर एक खास कागज आता है. उसके जरिये नकली चेक बनाकर और नकली हस्‍ताक्षर करके ये फर्जीवाडा क‍िया था.

बताया जाता है क‍ि अभी इस मामले में एक ही ग‍िरफ्तारी हुई है. इसमें और भी कुछ लोगों की ग‍िरफ्तारी होना बाकी है. यह अलग तरह का मोडस ऑपरेंडी है ज‍िसमें बैंक के स्‍टॉफ की भी म‍िलीभगत हो सकती है. जानकारी के मुताबि‍क बिना बैंक स्‍टॉफ के अकाउंट की ड‍िटेल प्राप्‍त नहीं हो सकती है.

पुल‍िस का कहना है क‍ि इस मामले में फिलहाल एक आरोपी गिरफ्तार हुआ है. लेकिन इस मामले में कुछ और लोगों की गिरफ्तारी होनी है. पुलिस के अनुसार ये अलग तरह का मोडस ऑपरेंडी है जिसमें बैंक स्टाफ की मिलीभगत है, क्योंकि बिना बैंक स्टाफ की मिलीभगत के अकाउंट डिटेल पता नहीं चल सकता. फिलहाल आरोपी के पास से सात लाख कैश, कुछ नकली चेक, बरामद हुआ है. आरोपी तरुण मोहन गार्डन का रहने वाला है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *