MP : विधानसभा अध्यक्ष का आरोप – बिजली संकट विपक्ष की साजिश, सरकार को करना चाहिए पर्दाफाश

जबलपुर. मध्य प्रदेश में बिजली संकट (power crisis) जैसी कोई स्थिति नहीं है. यह तो विपक्ष की साजिश है जिसका पर्दाफाश सरकार को करना चाहिए. यह बड़ा बयान मध्यप्रदेश विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने दिया है. वो जबलपुर दौरे पर थे.

अल्प प्रवास पर जबलपुर पहुंचे विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने कहा जिस तरह से विपक्ष बिजली कटौती और संकट का हौवा खड़ा कर रहा है, दरअसल ऐसा बिल्कुल भी नहीं है और ना ही हम दिग्विजय सिंह के काल के उस दौर में पहुंच रहे हैं जब प्रदेश बिजली कटौती के लिए जाना जाता था. कुछ तकनीकी कारणों से भले ही स्थितियां खराब हुई हों लेकिन फिलहाल मध्यप्रदेश में बिजली कटौती या संकट जैसे कोई हालात नहीं हैं.

लाइन बदलने के कारण समस्या
गिरीश गौतम ने कहा लगातार 40 साल से जिन इलेक्ट्रिक लाइनों के जरिए लोड ट्रांसफर होता था उसमे बदलाव किया जा रहा है. इस वजह से ट्रिपिंग की समस्या भी पैदा हुई है. लेकिन इसे बिजली कटौती का नाम देना गलत होगा. विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने भाजपा विधायकों के बिजली कटौती के मसले पर बयान देने पर कहा उनकी नाराजगी सरकार से नहीं बल्कि उन अधिकारियों से हैं जिन्होंने समय पर ट्रांसफार्मर नहीं बदले और लाइनों को दुरुस्त नहीं किया. अगर ट्रांसफार्मर खराब हैं तो इसके लिए सरकार को दोषी क्यों ठहराया जाए.

बीजेपी विधायकों ने सरकार को घेरा
पूरे मध्य प्रदेश में इस समय अघोषित बिजली कटौती हो रही है. घंटों बिजली गुल रहती है. खुद बीजेपी के दो विधायकों ने सीएम शिवराज को पत्र लिखकर बिजली समस्या की ओर ध्यान दिलाया है. पहले नारायण त्रिपाठी और फिर टीकमगढ़ विधायक राकेश गिरी स्वामी ने अपने इलाकों में 12 से 15 घंटे तक अघोषित बिजली कटौती की शिकात सीएम से की है. इस मामले को लेकर विपक्ष भी लगातार हमलावर है. कम बारिश होने के कारण बिजली उत्पादन ठप्प होने की स्थिति में है तो वहीं कोयले की कमी के कारण भी उत्पादन प्रभावित हुआ है. इस वजह से बीते दिनों मध्य प्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने भी बिजली जाने की सूचना सार्वजनिक की थी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *