T20 World Cup: एमएस धोनी टीम इंडिया को कोचिंग देने के इच्छुक नहीं, शास्त्री बस 2 महीने के मेहमान

नई दिल्ली. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni) को टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम का मेंटॉर बनाया गया है. टीम ने 2007 के बाद से वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीता है. लेकिन धोनी सिर्फ इसी वर्ल्ड कप तक टीम के साथ रहेंगे. वे लंबे समय तक बतौर सपोर्ट स्टाफ टीम इंडिया के साथ नहीं जुड़ना चाहते. यह खुलासा बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने किया है. टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) का कार्यकाल टी20 वर्ल्ड कप के बाद खत्म हो रहा है. वर्ल्ड कप के मुकाबले 17 अक्टूबर से 14 नवंबर तक होने हैं. यानी शास्त्री का कार्यकाल सिर्फ 2 महीने में खत्म हो जाएगा.

सौरव गांंगुली ने टेलीग्राफ से बात करते हुए कहा कि एमएस धोनी सिर्फ टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया के साथ रहेंगे. उन्होंने पहले ही हमें इस बारे में बता दिया है. मालूम हो कि धोनी की कप्तानी में ही टीम इंडिया ने एकमात्र बार 2007 में टी20 वर्ल्ड कप का खिताब जीता था. इतना ही नहीं 2013 में अंतिम बार टीम ने आईसीसी ट्राॅफी भी धोनी की ही कप्तानी में जीती थी. गांगुली ने कहा कि कई देश सीनियर खिलाड़ियों की मदद लेते रहे हैं. इससे टीम को ही फायदा मिलता है.

मतलब पूरी तरह बदल जाएगी टीम

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार टी20 वर्ल्ड कप के बाद विराट कोहली टी20 और वनडे टीम की कप्तानी छोड़ देंगे. वे बल्लेबाजी पर फोकस करना चाहते हैं. यानी टी20 वर्ल्ड कप के बाद टीम इंडिया पूरी तरह से बदल जाएगी. कोच रवि शास्त्री के अलावा कोहली भी नहीं रहेंगे. रोहित शर्मा को टी20 और वनडे टीम की कमान दिए जाने कर चर्चा है. हालांकि बीसीसीआई ने इस बात का खंडन कर दिया है. रोहित के अलावा अन्य कोई भारतीय खिलाड़ी कप्तानी की रेस में है भी नहीं.

यह भी पढ़ें: T20 World Cup: सभी चैंपियन कप्तान नहीं दिखेंगे टी20 वर्ल्ड कप में, धोनी ने खेले सबसे अधिक 2 फाइनल

यह भी पढ़ें: IPL 2021: आईपीएल को क्या मिलेगा नया चैंपियन? 8 में से सिर्फ 5 टीमें जीत सकी हैं खिताब

अगले साल से टी20 के मुकाबले और बढ़ जाएंगे

टी20 वर्ल्ड कप 2022 में भी होना है. ऑस्ट्रेलिया में टूर्नामेंट के मुकाबले हाेने हैं. इसके अलावा अगले साल से आईपीएल में भी 2 टीमें बढ़ने वाली हैं. यानी मैचों की संख्या बढ़ जाएगी. यानी ओवरऑल टी20 के मुकाबले बढ़ जाएंगे. आईपीएल में टीम बढ़ने से देशी और विदेशी खिलाड़ियों की मांग बढ़ेगी. इतना ही नहीं बीसीसीआई (BCCI) की आमदनी में भी बढ़ोतरी होगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *