Tourism Ministry News: सरकार ने देश में पर्यटन को पूरी तरह से खोलने की तैयारी की, जानें कब से

नई दिल्‍ली. सरकार (government) ने देश में पर्यटन (Tourism) को पूरी तरह से खोलने की तैयारी शुरू कर दी है. पिछले वर्ष मार्च में कोरोना का प्रकोप बढ़ने के बाद पर्यटन को बढ़ावा देने वाले कार्यक्रमों को बंद कर दिया गया था. अब जब कोरोना का असर कम हो रहा है और वैक्‍सीनेशन भी तेजी से की जा रही है, ऐसे  में पर्यटन खोलने की तैयारी है. केन्‍द्रीय पर्यटन, संस्‍कृति और पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकास मंत्री जी. किशन रेड्डी G. kishan reddy ने न्‍यूज18  हिन्‍दी को बताया कि अगर हालात सामान्‍य रहे तो अगले साल पहली जनवरी से पर्यटन को पूरी तरह से खोल दिया जाएगा.

पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी ने बताया कि मंत्रालय की तैयारी है कि अगर हालात सामान्‍य तो अगले वर्ष पहली जनवरी से पर्यटन को पूरी तरह से खोल दिया जाएगा. पर्यटन मंत्रालय भी पर्यटकों को बुलाने के लिए तरह-तरह की योजनाएं और प्रोग्राम चलाएगी. उनका कहना है कि दिसंबर तक 18 वर्ष से अधिक उम्र के लगभग सभी लोगों को वैक्‍सीन लग जाएगी. ऐसे मे पर्यटन को पूरी तरह खोला जा सकता है. हालांकि अभी पर्यटन खुला है लेकिन मंत्रालय की ओर से कोई पहल नहीं हो रही है. अगले वर्ष जनवरी से मंत्रालय पहल करेगा.  वहीं दूसरी ओर चारधाम यात्रा को भी अनुमति दे दी गई है. इस तरह धीरे धीरे पर्यटन उद्योग खुलने की संभावना है.

टूरिस्‍ट वीजा देने पर विचार

देशभर में कोरोना केस घट रहे हैं. लिहाज़ा केंद्र सरकार अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए बहुत जल्द टूरिस्ट वीज़ा फिर से शुरू करने पर विचार कर रही है. गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक सरकार इस पर जल्द फैसला ले सकती है. संभावना व्‍यक्‍त की जा रही कि सरकार सिर्फ ऐसे पर्यटकों को वीज़ा आवेदन करने की अनुमति दे सकती है, जिसने वैक्सीन की दोनों डोज़ ले रखी हों. गौरतलब है कि मार्च 2020 से टूरिस्ट वीज़ा सस्पेंड है. कई श्रेणियों के वीजा जैसे व्यापार, रोजगार और अन्य को छूट दी गई, लेकिन टूरिस्ट वीज़ा पर बैन जारी रहा. हालांकि कई खाड़ी देशों ने टूरिस्ट वीज़ा फिर से शुरू कर दिया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *